Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » Author Archives: कायस्थ खबर (page 20)

Author Archives: कायस्थ खबर

विशेष सुचना :जयपुर की सभी ३३ कायस्थ संस्थाए चित्रगुप्त जयंती समारोह गंगा सप्तमी (२ मई ) को ही मनाएंगे : मधुकर सक्सेना

कायस्थ खबर डेस्क I जयपुर की सभी ३३ कायस्थ संस्थाए चित्रगुप्त जयंती समारोह गंगा सप्तमी (२ मई ) को ही मनाएंगे I ये जानकारी जयपुर के सभी संस्थाओं को एक करने का दावा करने वाले देवेन्द्र सक्सेना मधुकर ने आज किया I कायस्थ खबर को मिले सन्देश के अनुसार इस बार जयपुर के सभी मोह्ह्ल्लो के श्री चित्रगुप्त मंदिरों में ...

Read More »

कायस्थ बोलता है : वाह कायस्थयुवान, जो हम न कर सके ,ये युवा करके दिखायेंगे ! धीरेन्द्र श्रीवास्तव

कायस्थ खबर "कायस्थ बोलता है" के नाम से  एक नया कालम शुरू कर रहा है जिसमे लोगो के टेस्टीमोनियलस उन लोगो के बारे में दिए जायेंगे जो परदे के पीछे रह कर काम कर रहे है I ये एक नयी कोशिश है समाज के चेहरों को आगे लाने का , मकसद है समाज में सहयोग की भावना को सामने लाने ...

Read More »

खुशखबरी : कायस्थ युवाओं की आवाज़ बनेगा “कायस्थयुवान” होगी एक नए मिशन की शुरुआत

कायस्थ खबर ब्यूरो I कायस्थ समाज में यु तो संगठनो की कमी नहीं है और सभी अपने अपने तरह से कायस्थ समाज में काम करने का दावा करते रहे हैं I लेकिन कायस्थ समाज के युवाओं की आवाज़ कोई संगठन नहीं बन सका है I ऐसे में अब कायस्थ समाज के कुछ जाग्रत युवाओं ने विश्षित साहित्यिक और सामाजिक लोगोके ...

Read More »

भगवान् चित्रगुप्त प्रकटोत्सव की पूर्व संध्या (१ मई २०१७) को इलाहाबाद के प्रसिद्ध मंदिर में होगा सामूहिक भंडारा

कायस्थ खबर ब्यूरो I महिला सशक्तिकरण की भावना से जय चित्रांश कल्याण समीति के आह्वाहन पर  भगवान् चित्रगुप्त प्रकटोत्सव की पूर्व संध्या (१ मई २०१७) को इलाहाबाद के झूसी स्थित भगवान श्री चित्रगुप्त के मदिर में सामूहिक भंडारे का आयोजन किया जाएगा I इस बात की जानकारी कायस्थ खबर को देते हुए आयोजन समीति ने बताया की ये कार्यक्रम नौ महिला कायस्थ ...

Read More »

कायस्थ बोलता है : मिलिए बुलंदशहर की सामाजिक कार्यकर्ता अलका भटनागर से , जो कायस्थ समाज के लिए हमेशा तैयार हैं

कायस्थ खबर "कायस्थ बोलता है" के नाम से  एक नया कालम शुरू कर रहा है जिसमे लोगो के टेस्टीमोनियलस उन लोगो के बारे में दिए जायेंगे जो परदे के पीछे रह कर काम कर रहे है I ये एक नयी कोशिश है समाज के चेहरों को आगे लाने का , मकसद है समाज में सहयोग की भावना को सामने लाने ...

Read More »

वर्षों से भगवान “चित्रगुप्त प्रकट उत्सव” सभी जगह “गंगा सप्तमी” पर ही मनाया जारहा हे…..फिर ये “चैत्र की पूर्णिमा” केसे : राजेश निगम

"भगवान चित्रगुप्त प्रकट उत्सव चैत्र की पूर्णिमा या गंगा सप्तमी ....."?? प्रमाणित कीजिए ....?? हम खुद असमंजस में हे...की . वास्तव मे ११ अप्रैल को या २ मई को भगवान चित्रगुप्त प्रकट उत्सव हे....?? आखिर सही क्या है...?? "भगवान चित्रगुप्त उत्सव" तो हम रोज मनाये क्या दिक्कत है..... वर्षों से भगवान "चित्रगुप्त प्रकट उत्सव" सभी जगह "गंगा सत्मी" पर ही ...

Read More »

प्रभु की अद्भुत महिमा देखी !! लोगो के हृदय में आस्था जागी !! – डॉ ज्योति श्रीवास्तव

प्रभु की अद्भुत महिमा देखी !! लोगो हृदय में आस्था जागी !! यदि मैं आप सबसे कहूँ कि एक गैर कायस्थ परिवार ने चित्रगुप्त भगवान की महत्ता को स्वीकार कर संपूर्ण विधि सहित नित्य पूजन और आरती करना आरंभ किया है तो संभवतः सहज आपको विश्वास नहीं होगा.... जी हाँ!! ये सत्य है!! देहरादून, उत्तराखण्ड में पहली बार नवंबर, १६-१८,२०१६ ...

Read More »

डिप्रेशन पर जागरुकता के साथ मनाया जा रहा है विश्व स्वास्थ्य दिवस, कायस्थ समाज में अपने आसपास के लोगो में डिप्रेशन के मरीजो को पहचाने

आज की भागदौड़ भरी जिन्दगी में कब हम किसी बीमारी का शिकार हो जाए पता ही नही चलता। वैसे ही एक मानसिक बीमारी है डिप्रेशन यानि उदासी या अवसाद। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनियाभर में 30 करोड़ से अधिक लोग ऐसे हैं जो अवसाद के शिकार हैं, जिसके कारण उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है और वे अक्षमता ...

Read More »

कायस्थ बोलता है : रेणु दी और अतुल सर का आभार, हम दोनोंआपकी मदद कभी नही भूल सकते : अल्पना श्रीवास्तव

कायस्थ खबर "कायस्थ बोलता है" के नाम से  एक नया कालम शुरू कर रहा है जिसमे लोगो के टेस्टीमोनियलस उन लोगो के बारे में दिए जायेंगे जो परदे के पीछे रह कर काम कर रहे है I ये एक नयी कोशिश है समाज के चेहरों को आगे लाने का , मकसद है समाज में सहयोग की भावना को सामने लाने ...

Read More »

संगठन, संगठन और संगठनों का खेल -सूत न कपास दो जुलाहों में लट्ठम-लट्ठा? महथा ब्रज भूषण सिन्हा

जय कायस्थ समाज की. आपकी प्रशंसा के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं, शब्द है भी तो लेखनी में स्याही अल्प है मुख से बखान करूँ तो सिर्फ एक ही मुख है. हे मेरे कुल पुरुष भगवान श्री चित्रगुप्त, मेरी जिह्वा पर सरस्वती विराजमान हों, सहस्त्र मुख हों तथा लेखनी में स्याही का समुद्र भर दें, ताकि मैं अपने मुख ...

Read More »