Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » चौपाल (page 24)

चौपाल

कायस्थों के सभी संगठन के पदाधिकारी पद लोलुपता एवम अहम् के शिकार हैं -महथा ब्रज भूषण सिन्हा

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा प्रदेश अघ्यक्ष : महथा ब्रज भूषण सिन्हा प्रदेश कार्यालय: किशोरगंज, रोड न. 6, हरमू रोड, रांची. 9431176739/9934582611 अखिल भारतीय कायस्थ महासभा में मै पिछले सात वर्षों से कार्य कर रहा हूँ. इस अवधि में मैंने पाया है कि कायस्थों के सभी संगठन के पदाधिकारी समाज सेवा के नाम पर पद लोलुपता एवं अपने को बड़े साबित ...

Read More »

कायस्थ विकास परिषद् कोई कार्य या आयोजन विधि विधान के अनुसार ही आयोजित करता है – आलोक श्री

कायस्थ विकास परिषद् का प्रयास और समर्पण कायस्थ समाज को एकजुट करके उन्हें समाज में एक सम्मान जनक स्थान दिलाना है और अपने कुल देवता के प्रति समाज में जागरूता लाना है । भगवान चित्रगुप्त प्रगट उत्सव को विधि पूर्वक चैत्र पूर्णिमा के दिन मनाना इस कड़ी का एक अंश है ।आज पुरे देश में भगवान का प्रगट उत्सव बहुत बड़े पैमाने पर ...

Read More »

सूतक काल मैं पूजन कितना उचित – सच श्रीवास्तव

सभी चित्रान्श बंधु 4 अप्रैल को भगवान श्री चित्रगुप्त जी का प्रगटोतस्व का आयोजन बड़ी धूमधाम से मनाने के उत्साहित हैं , परन्तु क्या उनको ज्ञात है की उस दिन चैत्र पूर्णिमा को ही चंद्र ग्रहण भी है , यह भी सही है की ग्रहण चंद्र ग्रहण लगने के तीन पहर पहले (एक पहर तीन घंटे का होता है) यानि ...

Read More »

आखिर वही सत्य हुआ जिसका अनुमान हमने लगाया था -धीरेन्द्र श्रीवास्तव, इलाहाबाद

आखिर वही सत्य हुआ जिसका अनुमान हमने अपने पिछले लेख मे लगाया था l एक बार फिर ठगा गया "आम कायस्थ",वह भी अपनो के हाथl दो चार सम्पन्न लोग जिन्हे "आम कायस्थ"की न तो कोई फिक्र है न ही करना चाहते है जब अपने स्वार्थसिद्धि के लिये योजनायें बनाते है तो ऐसे ही कार्यक्रम बनते है जिसमे चन्द वक्ता मंच पर अपनी ...

Read More »

कायस्थों को राजनितिक सहभागिता बढ़ानी होगी –रवि शंकर प्रसाद

वर्ल्ड कायस्थ कांफ्रेंस में कैबिनेट मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद का कायस्थों से आह्वान की वह राजनीती में अपनी सहभागिता जरुर बढ़ाए !राजनीतीक और सामाजिक सह्भागिरता से समाज को आत्म विस्वास और पहचान बढ़ेगा ! जीवन मे आत्मविश्वास कभी न कम करें ।अपनी बातो को कहते हुए वह अत्यंत भावुक हो गए उन्होंने कहा की मुझे पीड़ा होती है जब मैं ...

Read More »

द्वितीय वर्ल्ड कायस्थ – प्रश्न यह है की हमें इस आयोजन से ‘मिला’ क्या ? रोहित श्रीवास्तव

ऐसा अक्सर देखने को मिलता है कि जब भी हम किसी कार्य का बीड़ा उठाते है या उठाने का प्रयत्न करते है, या किसी आयोजन को करते है, चाहे वो 'पारिवारिक हो', 'सामाजिक हो' या राजनितिक हो, उसकी आलोचना और आलोचक आपको जरूर ही मिल जाते हैं. रचनात्मक दृष्टि से देखा जाए तो एक हिसाब से 'सकरात्मक आलोचना' सर्वदा हमारे ...

Read More »

एक सवाल -क्या एक बार फिर ठगा गया कायस्थ ?

$$ एक सवाल $$ हम कायस्थो का अतीत गौरवशाली था वर्तमान चिन्ता जनक है और भविष्य दयनीय होगा अगर इसी तरह हमको बार बार ठगा गया क्या यह world Kayastha Conference नाचना गाना फिर खाना और घर चले जाना * क्या सन्देश होगा 1- क्या मंचशीन केन्द्रीय नेत्रित्व कायस्थो के लिये कोई योजना बनायगा या आवस्यकता पड़ने पर पद से त्यागपत्र देगा ? 2- क्या ...

Read More »

हमें पहले देश में आपसी सामजस्य स्थापित करना चाहिए, फिर परदेश की सोचना चाहिए-कायस्थ विकास परिषद्

एक अच्छी सोच के साथ विश्व कायस्थ सम्मलेन जिस पर लाखो खर्च हो रहे है और इस इवेंट में तमाम कायस्थ रत्नों को सम्मिलित किया जा रहा है और आयोजन दिल्ली में होने जा रहा है. इसपर तमाम कायस्थ जन के अपने अपने विचार आ रहे है, जो नकरात्मक और सकरात्मक दोनों है. इसमें कुछ संघ और संघठन को आमंत्रित ...

Read More »