Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » अपील- सहयोग » और हम वापस आ गए … तकनीकी समस्या के चलते कायस्थ खबर के पाठको को हुई परेशानी के लिए हम माफी चाहते है

और हम वापस आ गए … तकनीकी समस्या के चलते कायस्थ खबर के पाठको को हुई परेशानी के लिए हम माफी चाहते है

नमस्कार चित्रांश बंधुओ

यूपी चुनावों के बाद की कवरेज और अपने बिजनेस के अन्य कामो और  कल शाम हमारी थोड़ी सी लापरवाही के चलते कायस्थ खबर लगभग ३ घंटे के लिए आप सब के लिए उपलब्ध नहीं था I

दरअसल डोमेन नवीनीकरण एक सामान्यप्रक्रिया है और ये हर साल सभी को करना पड़ता है I और सामान्यता स्वत: नवीनीकरण पर ग्राहक के क्रेडिटकार्ड पर लगा होता है I लेकिन पिछले दिनों भारत सरकार के रूपे कार्ड और UPI के चलते कुछ बदलाव इंटरनेशल पेमेंट गेटवे में हुए I जिस पर हमने ध्यान नहीं दिया I फलस्वरूप कायस्थ खबर लगभग ३ घंटे के लिए बंद रहा I

कायस्थ खबर प्रबंधन इस गलती  को पूरी जिम्मेदारी से स्वीकार करता है I और अपने पाठको को इसके चलते जो परेशानी और मायूसी हुई उसके लिए क्षमा चाहता है I हमआपकी कायस्थ खबर के प्रति लगाव और विशवास की कद्र करते है I

आपदा में ही सर्जन भी छुपा होता है 

हालांकि देखा जाए तो कायस्थ खबर का ३ घंटे के लिए बंद होना एक बड़ी घटना थी I और कायस्थ खबर प्रबंधन कोशिश करेगा की आगे इसकी पुनरावृत्ति ना हो लेकिन जिस तरह से हमारे शुभचिंतको ने कल एक के बाद एक हमें सन्देश भेजे वो हमारे लिए उत्साह वर्धक थे I साथ ही कायस्थ खबर प्रबंधन उन विरोधियो का भी शुक्रगुजार है जिन्होने इस पर सबसे पहले खुशिया मना कर जानकारी दी I

किसी भी उपक्रम के लिए उसके आरंभिक ५ साल बहुत कठिन होते है,   पिछले कुछ दिनों से चलते विवादों और व्यक्तिगत इर्ष्या के चलते लगे बेवजह आरोपो के चलते  कायस्थ खबर प्रबंधन इसको बंद करने की योजना पर काम कर रहा था I प्रबंधन समिति का एक बड़ा हिस्सा ये कह रहा था की इसको चलाने में सिवाय बदनामी के हमें कोई फायदा नहीं है I समाज का अधिकाँश हिस्सा विज्ञापन के नाम पर गायब हो जाता है और फ्री में ही कायस्थ खबर प्रबंधन पर अपने नेताओं के प्रचार के लिए दबाब बनाता है I ऐसे में जिस उपक्रम को चालाने लायक भी पैसे नहीं आ रहा है उसको क्यूँ ना बंद कर दिया जाए I

लेकिन कल रात लगातार ३ बजे तक हमारे विभिन्न नम्बरों पर २०० से ज्यदा शुभचिंतको  के फोन पर हुए संवादों  ने  हमारे विशवास को कल और भी दृढ कर दिया की कायस्थ खबर वाकई आज समाज की ताकत और बड़ी उम्मीद बन चुका है I और अब अगर हम चाहे भी तो इसको पीछे नहीं ले जा सकते है I इसलिए कायस्थ खबर की मूल कम्पनी ब्रह्मम टेक्नालाजी ने इसको अगले 3 साल के लिए और जारी रखने का फैसला किया है I

3 साल के बाद एक कायस्थ खबर प्रबंधन एक बार फिर से सभी बातो का आंकलन करेगा और आगे की रणनीति पर विचार करेगा I हमें आशा है की आपके प्यार और विशवास कायस्थ खबर को सालो साल चलाने में मदद करेगा और कायस्थ खबर दिन प्रतिदिन ऐसे ही लोगो के बीच अपनी पहचान बनता जाएगा I

धन्यवाद

आशु भटनागर
प्रबंध सम्पादक
कायस्थखबर.काम

आप की राय

comments

About कायस्थ खबर

कायस्थ खबर(http://kayasthakhabar.com) एक प्रयास है कायस्थ समाज की सभी छोटी से छोटी उपलब्धियो , परेशानिओ को एक मंच देने का ताकि सभी लोग इनसे परिचित हो सके I इसमें आप सभी हमारे साथ जुड़ सकते है , अपनी रचनाये , खबरे , कहानियां , इतिहास से जुडी बातें हमे हमारे मेल ID kayasthakhabar@gmail.com पर भेज सकते है या फिर हमे 8826511334 पर काल कर सकते है आशु भटनागर सम्पादक कायस्थ खबर

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*