Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » खबर » सडको पर उतरे युवा कायस्थ का सम्मान अब इलाहबाद के युवा कायस्थ महासम्मेलन में होगा – धीरेन्द्र श्रीवास्तव

सडको पर उतरे युवा कायस्थ का सम्मान अब इलाहबाद के युवा कायस्थ महासम्मेलन में होगा – धीरेन्द्र श्रीवास्तव

कायस्थ खबर डेस्क I मुगलसराय सराय रेलवे स्टेशन का लाल बहादुर शास्त्री जी के नाम पर रखने को लेकर कल उत्तर प्रदेश में ४ जगह और दिल्ली के जंतर मन्तर पर हुए १ दिवसीय धरने को मील का पत्थर बताते हुए कायस्थ वृन्द के मुख्य समन्वयक धीरेन्द्र श्रीवास्तव ने ऐसे युवाओं को जल्द ही इलाहबाद में होने वाले युवा कायस्थ महासम्मेलन में सम्मानित करने की घोषणा की है , सोशल मीडिया पर जारी में बयान को कायस्थ खबर जारी कर रहा है

प्रसन्नता है कि कायस्थ हित के लिये वास्तविक प्रयास करने वाले युवाओ ने चापलूसी कर वातानूकूलित कक्ष में थोथे सम्मान प्राप्त करने के बजाये जेठ की कड़ी धूप में अपने समाज व कुलगौरव के सम्मान के लिये संघर्ष करने
को प्राथमिकता दी।
कल पूरे देश मे प्रमुख जगहो पर कायस्थ समाज के युवाओं ने ऊर्जा का परिचय दिया।
तभी तो वरिष्ठ पत्रकार व साहित्यकार पवन उन्मुक्त जब संघर्ष करने बैठे तो कह उठे की "इस आंदोलन की ऊर्जा जमीन के वाइब्रेशन में महसूस हो रही।"

वाह "कायस्थयुवान",अनुज कवि स्वप्निल, नितिन सक्सेना, कैरोन श्रीवास्तव, राकेश श्रीवास्तव तथा अन्य युवा साथियों, आप लोगों ने कल बता दिया कि समाज का युवा अब सड़क पर भी उतर सकता है।
वही दूसरी तरफ परन्तु तुष्टिकरण की इन्तिहा देखिये।माननीय लोकप्रिय एवम सर्वमान्य कायस्थ जो हम सबके अगुआ भी है के प्रमुख स्तम्भ होने का दावा करने वाले भद्र एवम सज्जन हमारे सर्वमान्य अग्रज के ऊपर अपमानजनक टिप्पणी करने वाले पत्थरबाजो को तुष्ट करने के लिये तन-मन-धन से सहयोग करके कायस्थ समाज को किस दिशा में ले जा रहे है ?
हमारे इस पोस्ट के बाद देवताओ और महर्षियो के श्रीमुख से निकलने वाली "अमरवाणी"को हम जरूर प्रस्तुत करेंगे जिससे इनका गाम्भीर्य व देववचन समाज के सामने आये व समाज भी जान सके कि ये कौन है और कर क्या रहे है?
सन्तोष है कि युवा कवि स्वप्निल आपने अपने टीम के साथ कायस्थ स्वाभिमान व सम्मान का जो अनथक प्रयास किया है ,हम और हमारे जैसे कायस्थ एकता व विकास के सिपाही अभिभूत है।आशायें जगी है।कायस्थ समाज एवम् हमारे सर्वमान्य को भ्रम में रखने वाले सम्पूर्ण पटल पर पराजित एवम् अदृश्य होंगे।

समाज के सजग युवा प्रहरियों बस यूँ ही, जुड़ते चलो,बढ़ते चलो,जीत तुम्हारी होगी ये तय है।

युवा कायस्थ जिंदाबाद,कायस्थ एकता जिंदाबाद,कायस्थवृन्द जिन्दाबाद।
हम होंगे कामयाब एक दिन!!

आपका अपना
धीरेन्द्र श्रीवास्तव
मुख्य समन्वयक "कायस्थवृन्द"

आप की राय

आप की राय

About कायस्थ खबर

कायस्थ खबर(http://kayasthakhabar.com) एक प्रयास है कायस्थ समाज की सभी छोटी से छोटी उपलब्धियो , परेशानिओ को एक मंच देने का ताकि सभी लोग इनसे परिचित हो सके I इसमें आप सभी हमारे साथ जुड़ सकते है , अपनी रचनाये , खबरे , कहानियां , इतिहास से जुडी बातें हमे हमारे मेल ID kayasthakhabar@gmail.com पर भेज सकते है या फिर हमे 7011230466 पर काल कर सकते है आशु भटनागर प्रबंध सम्पादक कायस्थ खबर

One comment

  1. KAYSTH EKTA DIVAS KO KISI BHI SUNDAY KI TARIKH ME FIX KIYA JAYE — HAREK MAHINE KI KISI TARIKH KO IS DIVAS KE LIYE PERMANENT FIXED KAR DIYA JANA CHAHIYE , ESA KARYKRAM DESH KE KE HAR JAGAH HONE CHAHIYE

    KAYASTHON KO EKJUT EK CHHATRI KE NEECHE LANA HOGA , TABHI RAJNETIK PAHAL HOGI .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*