Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » कायस्थ खबर के वार्षिक, आजीवन सदस्य, संरक्षक बने

कायस्थ खबर के वार्षिक, आजीवन सदस्य, संरक्षक बने

कायस्थखबर.काम कायस्थ समाज का  सबसे विश्वसनीय और लोकप्रिय कायस्थ न्यूज़ पोर्टल है I कायस्थखबर के संचालन और इसे नयी उचाइयो पर ले जाने के लिए कायस्थ खबर को आपके सहयोग की ज़रूरत है I

इसके लिए कायस्थ खबर  सदस्यता अभियान शुरू कर रहा है I जिसको हमने वार्षिक , आजीवन और संरक्षक के रूप में विभाजित किया है I आप लोग अपनी स्वेच्छा से जिस भी तरह हमसे जुड़ना चाहे जुड़ सकते है I

कायस्थ खबर के सशुल्क सस्ब्क्रिबर बन्ने के लिए आप निम्न आप्शन को चुन सकते है
वार्षिक २००० रूपए (USD 50)
आजीवन २५००० (USD 500)
संरक्षक २००००० (USD 5000)

आप अपनी सदस्यता गूगल फ़ार्म के जरिये भर कर हमें से जुड़ सकते है  I

सदस्यता के फायदे :

१) कायस्थ समाज की खबरे सीधे आपके ईमेल और व्हाट्स अप्प पर

२) समय समय पर होने वाले कायस्थ खबर के कार्यक्रमों की जानकारी

३) साल में २ बार अपने किसी भी प्रिय के जन्मदिन/शादी की साल गिरह की बधाई सन्देश (चित्र सहित ) कायस्थ खबर में छापने का मौका

४) कायस्थ खबर के जरिये आपकी एवं कायस्थ समाज की खबरों का  प्रसार प्रचार

5) कायस्थ खबर में विज्ञापन देने पर ३०% की छुट

you can pay in following way .

PayTM at 9654531723

pay by online at our pay u account
https://www.payumoney.com/webfronts/#/index/Kayasthakhabar

you can pay via off line in our bank account.
Brahmam Technologies, Ac no: 081605500007 ICICI Bank Sector 63 Noida 201301”
IFSC Code: ICIC0000816 (used for RTGS and NEFT transactions)

धन्यवाद
संपादक
आशु भटनागर
९६५४५३१७२३

 

आप की राय

आप की राय

2 comments

  1. Chandan Kumar Sinha

    The exclusive society of kayastha are not integrated from the very past, is a well known fact. It was not very serious issue sometime before, why?
    Because, there was no need to be integration, Kayasthas were contributing their responsibility towards the society individually. I am not saying they should stop doing the same but my point is that now the time has come to be unite and integrated and continue to contribute in society individually.

  2. This site is very useful for Kayastha community,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*