Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » चौपाल

चौपाल

जो कायस्थों की भागीदारी देगा
वही राजनीति में आगे बढ़ेगा : मनोज सक्सेना

किस पार्टी को सबसे ज्यादा कायस्थ समाज ने सम्मान दिया अपना वोट अपना सपोर्ट किया आज वही पार्टी कायस्थ समाज को किनारे कर रही हैं भारतीय जनता पार्टी प्रधान से लेकर सांसद के चुनाव में कायस्थ समाज का 90% वोट प्राप्त करती है लेकिन जब उसको देने का वक्त आता है वह अन्य जाति को देती है लेकिन हमारा समाज ...

Read More »

कायस्थों को शुद्र कहिए या एस सी एस टी में डाल दीजिए फर्क नही पड़ता पर सोचिए कि कहीं आने वाली पीढ़ी अम्बेडकरवाद की राह ना पकड़ ले : परख सक्सेना

कायस्थों को शुद्र कहिए या एस सी एस टी में डाल दीजिए फर्क नही पड़ता मगर डर इस बात से लगता है कि आने वाली पीढ़ी अम्बेडकरवाद की राह ना पकड़ ले। उत्तरप्रदेश में कायस्थ समाज को ओबीसी में रखने का बीजेपी का प्रस्ताव निंदनीय है और उत्तरप्रदेश के कायस्थों को बीजेपी का विरोध करना चाहिए साथ ही उसे आश्वासन ...

Read More »

आरक्षण लेने से पहले यह सोचे कि जब ‍EWS है तो OBC कि बात ही क्यों आईं? : विस्वास आनंद श्रीवास्तव

कायस्थ जाति को आरक्षण लेने से पहले यह कुछ बातें दिमाग़ में रख लेनी चाहिए।सबसे पहले की कायस्थ अपना राजनीतिक नेतृत्व भूल जाएं।दूसरा यह आरक्षण देने वाले ब्राह्मण समाज, क्षत्रिय समाज और वैश्य समाज वह काम कर जाएगी जो इतने सालों में अंग्रेज-मुग़ल नहीं कर पाए और ना ही इन मनु स्मृति माननेवाले ब्रह्मण, ब्रह्मणों के समतुल्य एक ही जाति ...

Read More »

आरक्षण के लालच में पूर्वजो की मान मर्यादा से खिलवाड़ मत कीजिये : अतुल श्रीवास्तव

आज जो लोग आरक्षण का समर्थन कर रहे है, उनसे मेरे कुछ सवाल है? जब आरक्षण के नाम पर पी सी यस और आई ए एस की कट ऑफ की दुहाई देते है।दूसरी तरफ कायस्थ गरीब है लाचार है कमजोर है बताते नही थकते तो भैया ये कौन सा पैमाना है आपका एक तरफ तो सिविल सर्विस की बात करते ...

Read More »

आरक्षण के लालच में पूर्वजो की मान मर्यादा से खिलवाड़ मत कीजिये : अतुल श्रीवास्तव

आज जो लोग आरक्षण का समर्थन कर रहे है, उनसे मेरे कुछ सवाल है? जब आरक्षण के नाम पर पी सी यस और आई ए एस की कट ऑफ की दुहाई देते है।दूसरी तरफ कायस्थ गरीब है लाचार है कमजोर है बताते नही थकते तो भैया ये कौन सा पैमाना है आपका एक तरफ तो सिविल सर्विस की बात करते ...

Read More »

आरक्षण अब समाजिक मुद्दा न रहकर एक राजनीतिक मुद्दा है : आशीष श्रीवास्तव

जिनको आरक्षण चाहिए वो यहां कोई ठोस आधार लाये हमे क्यों ओबीसी में जाना है? और बताने से पहले वो मेरे सुझाव सुन ले ।1.आर्थिक आधार पर हमको आरक्षण मिल ही रहा है।2.हमको ews में जो कमिया उसको दूर करने की दिशा में कदम उठाना चाहिए जैसे शिक्षण संस्थानों की फीस में छूट मिलनी चाहिए3.अपने कायस्थ समाज में जो दहेज़ ...

Read More »

सोती रही कायस्थ समाज की संस्थाएं, दर्जी भुर्जी नाई कॉयस्थो की होने लगी हार आखिर जीतने लगे चित्रगुप्त वंशीय कायस्थ : अतुल श्रीवास्तव

सोती रही कायस्थ समाज की संस्थाएं और पोल पोल के खेल में व्यस्त रही आम कायस्थ का विरोध काम आया । कायस्थ समाज के लगातार विरोध के बाबजूद आखिर कार भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता आलोक अवस्थी ने कॉयस्थो को आरक्षण में न शामिल किए जाने का दावा किया जिसकी जानकारी समाज को एक वायरल वीडियो के माध्यम से मिली। ...

Read More »

आज तुम आरक्षण लेने के लिए पिछड़ा वर्ग बनने को तैयार हो कल को अगर ईसाई या मुसलमान बनने पर आरक्षण देगा तो तुमको धर्म परिवर्तन करते देर नहीं लगेगी: अंबुज सक्सेना

हम 400 साल तक राम मंदिर के लिए क्यो लड़े थे.. कि हम हिंदू है इसलिए मंदिर बनना चाहिए… भारत में लाखो मंदिर है फिर भी अयोध्या के लिए लड़े क्यो क्यो….. अगर अयोध्या के लिए नहीं लड़ते तब क्या भूखे मर जाते या तरक्की नहीं होती है….. हम केवल अपनी अस्मिता को बचाने के लिए, अपने गौरव को बचाने ...

Read More »

ओबीसी बनने में हर प्रकार से घाटा है, कायस्थों का मान सम्मान सब कुछ जाता है : पीएल अम्बष्ट

कायस्थों को तथाकथित ओबीसी कोटा बहुत ही विचित्र स्तिथि ले के आया है। जहाँ आरक्षण के कारण कायस्थ समाज को सबसे ज्यादा भुगतना पड़ा और आज इसी मजबूरी में कुछ लोगों को लग रहा है कि आरक्षण रातों रात हमारे समाज का काया पलट कर देगा। वस्तुस्थिति ये नहीं है। फिलहाल प्रारम्भ करते हैं यथास्थिति से। इसमें कोई संशय नहीं ...

Read More »

कायस्थो का OBC श्रेणी मैं आना उचित समाधान नहीं : अभिषेक कुमार श्रीवास्तव

हमारे समस्त कायस्थ समाज के भाई बंधुओं को एकजुट होकर यह बात साफ-साफ समझने की आवश्यकता है के कायस्थों का OBC श्रेणी मैं आना कोई उचित समाधान नही है और जो लोग OBC श्रेणी मैं आने पर समर्थन कर रहे है मेरा उनसे भी अनुरोध है के कायस्थों वाला दिमाग लगाएं एवं तथ्यों को समझे।समाधान अपनी श्रेणी बदलने से नही ...

Read More »