Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » चौपाल » कायस्थ बोलता है

कायस्थ बोलता है

कायस्थों को शुद्र कहिए या एस सी एस टी में डाल दीजिए फर्क नही पड़ता पर सोचिए कि कहीं आने वाली पीढ़ी अम्बेडकरवाद की राह ना पकड़ ले : परख सक्सेना

कायस्थों को शुद्र कहिए या एस सी एस टी में डाल दीजिए फर्क नही पड़ता मगर डर इस बात से लगता है कि आने वाली पीढ़ी अम्बेडकरवाद की राह ना पकड़ ले। उत्तरप्रदेश में कायस्थ समाज को ओबीसी में रखने का बीजेपी का प्रस्ताव निंदनीय है और उत्तरप्रदेश के कायस्थों को बीजेपी का विरोध करना चाहिए साथ ही उसे आश्वासन ...

Read More »

आरक्षण लेने से पहले यह सोचे कि जब ‍EWS है तो OBC कि बात ही क्यों आईं? : विस्वास आनंद श्रीवास्तव

कायस्थ जाति को आरक्षण लेने से पहले यह कुछ बातें दिमाग़ में रख लेनी चाहिए।सबसे पहले की कायस्थ अपना राजनीतिक नेतृत्व भूल जाएं।दूसरा यह आरक्षण देने वाले ब्राह्मण समाज, क्षत्रिय समाज और वैश्य समाज वह काम कर जाएगी जो इतने सालों में अंग्रेज-मुग़ल नहीं कर पाए और ना ही इन मनु स्मृति माननेवाले ब्रह्मण, ब्रह्मणों के समतुल्य एक ही जाति ...

Read More »

आरक्षण के लालच में पूर्वजो की मान मर्यादा से खिलवाड़ मत कीजिये : अतुल श्रीवास्तव

आज जो लोग आरक्षण का समर्थन कर रहे है, उनसे मेरे कुछ सवाल है? जब आरक्षण के नाम पर पी सी यस और आई ए एस की कट ऑफ की दुहाई देते है।दूसरी तरफ कायस्थ गरीब है लाचार है कमजोर है बताते नही थकते तो भैया ये कौन सा पैमाना है आपका एक तरफ तो सिविल सर्विस की बात करते ...

Read More »

आरक्षण के लालच में पूर्वजो की मान मर्यादा से खिलवाड़ मत कीजिये : अतुल श्रीवास्तव

आज जो लोग आरक्षण का समर्थन कर रहे है, उनसे मेरे कुछ सवाल है? जब आरक्षण के नाम पर पी सी यस और आई ए एस की कट ऑफ की दुहाई देते है।दूसरी तरफ कायस्थ गरीब है लाचार है कमजोर है बताते नही थकते तो भैया ये कौन सा पैमाना है आपका एक तरफ तो सिविल सर्विस की बात करते ...

Read More »

सोती रही कायस्थ समाज की संस्थाएं, दर्जी भुर्जी नाई कॉयस्थो की होने लगी हार आखिर जीतने लगे चित्रगुप्त वंशीय कायस्थ : अतुल श्रीवास्तव

सोती रही कायस्थ समाज की संस्थाएं और पोल पोल के खेल में व्यस्त रही आम कायस्थ का विरोध काम आया । कायस्थ समाज के लगातार विरोध के बाबजूद आखिर कार भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता आलोक अवस्थी ने कॉयस्थो को आरक्षण में न शामिल किए जाने का दावा किया जिसकी जानकारी समाज को एक वायरल वीडियो के माध्यम से मिली। ...

Read More »

आज तुम आरक्षण लेने के लिए पिछड़ा वर्ग बनने को तैयार हो कल को अगर ईसाई या मुसलमान बनने पर आरक्षण देगा तो तुमको धर्म परिवर्तन करते देर नहीं लगेगी: अंबुज सक्सेना

हम 400 साल तक राम मंदिर के लिए क्यो लड़े थे.. कि हम हिंदू है इसलिए मंदिर बनना चाहिए… भारत में लाखो मंदिर है फिर भी अयोध्या के लिए लड़े क्यो क्यो….. अगर अयोध्या के लिए नहीं लड़ते तब क्या भूखे मर जाते या तरक्की नहीं होती है….. हम केवल अपनी अस्मिता को बचाने के लिए, अपने गौरव को बचाने ...

Read More »

ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर कायस्थ संस्थाओ का रोल बड़ा ही संदिग्ध है : अतुल श्रीवास्तव

आरक्षण के मुद्दे पर कायस्थ संस्थाओ का रोल बड़ा ही संदिग्ध है कुछ एक को छोड़कर वो अभी तक अनिर्णय की स्थिति में है इधर जाऊ या उधर जाऊ बड़ी मुश्किल में हूँ मैं किधर जाऊ।ज्यादातर अभो पोल करा रहे है। उनकी इस सोच पर सवाल बनता है कि एक तरफ आप समाज के प्रतिनिधत्व की बात करते है दूसरी ...

Read More »

कायस्थों को ईडब्ल्यूएस की जगह ओबीसी में जबरदस्ती घुसाया जा रहा है : वीनू श्रीवास्तव

हमारे कायस्थ समाज में नकारात्मकता को इतना अधिक बढ़ा दिया गया है और यह सोच आज नहीं डाली गई है किसी के मन मेंबचपन से ही सुनते आ रहे हैं कायस्थ चालाक होते हैं कायस्थ का बच्चा कभी ना सच्चा कायस्थ किसी के सगे नहीं होते कायस्थ लोगों में एकता नहीं होती कायस्थ लोग जलते हैं आपस में एक दूसरे ...

Read More »

स्वाभिमानी कायस्थों ने नकारा जातिगत आरक्षण का लॉलीपॉप : अनिल श्रीवास्तव

अनिल कुमार श्रीवास्तव । जातीयता की बेड़ी में जकड़े उत्तर प्रदेश के चुनाव बेशक अभी थोड़े दूर हों लेकिन राजनीतिक दलों द्वारा जातियों को साधने की आजमाइश के साथ चुनावी आगाज हो गया है।भीषण गर्मी में बारिश के साथ बढ़ी बेतहाशा उमस भरी गर्मी में ब्राह्मणों को रिझाने के साथ चुनावी रंग घुल गया। जहां एक तरफ बसपा, भाजपा, सपा, ...

Read More »

सत्य घटना पर आधारित इस घटना को सभी कायस्थ अधिकारी, समाजसेवी और व्यापारी ज़रूर पढ़े

सत्य घटना पर आधारित । कायस्थ समाज के सभी सरकारी अधिकारी व कर्मचारी जो सरकारी नौकरी पर है, अवश्य पढ़ें क्योंकि आप भी बाद में पश्चाताप ही कर सकते हैं और कुछ नहीं कर पायेंगे। मेरे एक प्रिय मित्र ने मुझे एक सत्य घटना बताई सुन कर लगा कि बात बहुत गम्भीर है आप सब तक जरुर जानी चाहिये। आप ...

Read More »