Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » खबर » संजीव सिन्हा कैम्प के राजेश अभागा ने रिकार्डिंग कर कायस्थ खबर पर लगाए इलज़ाम, कायस्थ खबर की लाबिंग की बात हुई सच साबित

संजीव सिन्हा कैम्प के राजेश अभागा ने रिकार्डिंग कर कायस्थ खबर पर लगाए इलज़ाम, कायस्थ खबर की लाबिंग की बात हुई सच साबित

कायस्थ वृंद की गुटबाजी किस हद तक है इसका सबुत खुद संजीव सिन्हा कैम्प के राजेश अभागा ने प्रस्तुत कर किया है I उन्होंने कायस्थ खबर के आशु भटनागर और राजेश अभागा के मध्य हुई बात चीत का एक टेप प्रस्तुत किया जिसमे वो बार बार अपनी प्रतिबधता व्यक्ति विशेष के साथ तो प्रकट कर रहे हैं लेकिन जब कायस्थ खबर उसे लाबिंग का नाम दे रहा है तो उलटे कायस्थ खबर पर ही आरोप लगा दे रहे है संजीव सिन्हा के बारे में सच लिखने पर कायस्थ वृंद के ये सारे सिपाही एक एक करके खुल कर सामने आ रहे है I कायस्थ खबर का उद्देश्य भी यही है की समाज कल्याण के नाम पर हुए इस खेल का सच अब सबके सामने आना ही चाहए I दरअसल संजीव सिन्हा के धर्मपत्नी के निष्कासन की खबर से तिलमिलाया पूरा गुट अब ऐसी ही हरकते करेगा I इसका हमें अंदेशा था इसीलिए हमने राजेश अभागा को फ़ोन किया और उनसे बार बार उनकी लाबिंग के बारे में पूछा लेकिन वो ये तो स्वीकार करते हैं की वो व्यक्ति विशेष के कारण ही आये और उन्ही के कारण चले भी गये लेकिन जब हम समझाते है की इसे ही लाबिंग कहते है तो मानते नहीं क्योंकि उनकी प्रतिबधता व्यक्तिगत है सामाजिक नहीं और उसी व्यक्तिगत प्रतिबधिता को हमने लाबिंग कहा है पढ़िये वो हमें इनबाक्स में धमकी स्वरूप भेज कर क्या दिखाना चाहते हैं
ये है कायस्थ खबर डॉट कॉम के सम्पादक आशु भटनागर। जो जबरिया फोन कर मुझसे लॉबिंग की बात कबुलवाना चाहते है। बड़ा हास्यास्पद लगता है जो खुद लाबिंग में शामिल है उसे हर दूसरा व्यक्ति लाबिंग करता नजर आता है। एक कहावत है - अपने दिल से जानिए पराये दिल का हाल। वही कहावत आशु भटनागर चरितार्थ करने पर तुले है। कायस्थवृंद के जय चित्रांश आंदोलन ग्रुप से मैने खुद को Jबाहर कर लिया क्योंकि वँहा आरोप प्रत्यारोप का दौर के साथ साथ एक दूसरे को नीचा दिखाने का खेल जारी जारी था। इसी बिच एक सज्जन हथियार तक उठाने की बात कह गये दूसरे उन्हें समझाने के बजाय उसे और शह देने का कम किया। जो मुझे नागवार गुजरा। इतना ही नही ग्रुप के लिए गठित की गयी 7 सदस्यीय अनुशासन समिति ने जब एक व्यक्ति को ग्रुप से बाहर का रास्ता दिखाया तो उनके कुछ समर्थक ग्रुप को अखाडा बना दिया। लेकिन कायस्थवृंद के मुख्य समन्वयक समेत एनी समन्वयक तमासबीन बन तमसा देखते रहे। इसी बीच हमारे झारखण्ड प्रदेश के कायस्थवृंद समन्वयक ने ग्रुप से खुद को हटा लिया। मै भी दो दिनों से ग्रुप में मची उथल पुथल को देखते हुए ग्रुप से उकता गया था। यधपि मैने ग्रुप का एक एडमिन होने के नाते ग्रुप में मर्यादा कायम रखने की कई बार सदस्यों से अनुरोध किया था पर स्थिति ढ़ाक के तीन पात वाली बनी रही यु कहे कि ग्रुप पूरी तरह बेलगाम हो गयी। जबकि मैने कई बार विषय बदलने का भी प्रयास किया था - तब मैने भी यह कहते हुए कि "जंहा हमारे प्रदेश समन्वयक नही वँहा हम भी नही" ग्रुप से खुद को अलग कर लिया। मामला आया गया हो गया। लेकिन यह पूरा प्रकरण कायस्थ खबर और उसके सम्पादक आशु भटनागर को शायद हजम नही हो पाया। वो इस प्रकरण को लॉबिंग का मामला बताने पर तुले है। इसी तिलमिलाहट वो मुझे फोन कर मुझसे बार बार यह कबुलवाना चाहा कि मै लाबिंग के तहत ग्रुप से खुद को अलग किया। टेलीफोनिक बातचीत के दौरान उन्होंने कायस्थवृंद के एक समन्वयक संजीव सिन्हा पर बार बार विभिन्न प्रकार का आरोप इस प्रकार लगा रहे थे जैसे उनसे उनकी कोई जातीय या फिर वयक्तिगत दुश्मनी हो। यधपि मैने बार बार आशु भटनागर को यह कहा कि "आप पत्रकार हो -आप लॉबिंग में मत फंसो।" लेकिन वह तो मुझे ही धमकी दे दिया कि "मै आपके बारे में असलियत सबके सामने लाकर रखूंगा।" मै भी वर्ष 1991 से पत्रकारिता के क्षेत्र से जुड़ा हूँ - लेकिन जिस प्रकार की धमकी चमकी देकर आशु भटनागर को लोगों से अपने अनुसार ब्यान उगलवाने का प्रयास करते देखा। आज तक नही कर पाया। आशु भटनागर कायस्थ खबर डॉट कॉम नामक न्यूज़ पोर्टल चलाते है उसके सम्पादक है लेकिन उन्हें यह नही पता कि पत्र और पत्रकार कभी पार्टी नही बनता। वह अपनी बातें दूसरे से कहलवाता है। लेकिन इस प्रकरण में तो ऐसा लग रहा है जैसे वह पत्रकार नही कायस्थवृंद ग्रुप के एकमात्र वफादार सिपाही है। प्रस्तुत है उनके द्वारा मुझसे आज 21 अप्रैल 2016 को सुबह 11:10 बजे की गयी 19 मिनट 20 सेकेण्ड की टेलीफोनिक बातचीत :- राजेश कुमार रंगकर्मी सह पत्रकार गिरिडीह, झारखण्ड। रिकार्डिंग भी हम जल्द ही आपको उपलब्ध करवाएंगे

आप की राय

आप की राय

About कायस्थ खबर

कायस्थ खबर(http://kayasthakhabar.com) एक प्रयास है कायस्थ समाज की सभी छोटी से छोटी उपलब्धियो , परेशानिओ को एक मंच देने का ताकि सभी लोग इनसे परिचित हो सके I इसमें आप सभी हमारे साथ जुड़ सकते है , अपनी रचनाये , खबरे , कहानियां , इतिहास से जुडी बातें हमे हमारे मेल ID kayasthakhabar@gmail.com पर भेज सकते है या फिर हमे 7011230466 पर काल कर सकते है अगर आपको लगता है की कायस्थ खबर समाज हित में कार्य कर रहा है तो  इसे चलाने व् कारपोरेट दबाब और राजनीती से मुक्त रखने हेतु अपना छोटा सा सहयोग 9654531723 पर PAYTM करें I आशु भटनागर प्रबंध सम्पादक कायस्थ खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*