Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » खबर » ट्रस्ट विवाद : २८ को फैसला कराने का दावा कराने वाले पंकज भैया का नहीं आया कोई जबाब, संजीव सिन्हा ने कानूनी कार्यवाही करने के दिए संकेत

ट्रस्ट विवाद : २८ को फैसला कराने का दावा कराने वाले पंकज भैया का नहीं आया कोई जबाब, संजीव सिन्हा ने कानूनी कार्यवाही करने के दिए संकेत

ऐसा लगता है लखनऊ से शुरू हुए ट्रस्ट के विवादों को पंकज भैया भी नहीं सुलझा पाए I गौरतलब है की हफ्ते भर पहले ट्रस्ट में दोनों पक्षों के बीच उठे विवादों को हल करने का दावा पंकज भैया ने किया था I लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उस दिन सिर्फ दो ही लोग वहां आने में रूचि दिखाए I जिसके बाद पंकज भैया ने चुप्पी ओढ़ ली है कायस्थ खबर को मिली जानकारी के अनुसार ट्रस्ट के अन्य सभी  लोगो का कहना था जब ट्रस्ट को बहुमत से बंद करने का निर्णय लिया जा चूका है तो ऐसे में इस बैठक का कोई औचित्य नहीं है I कायस्थ खबर और अन्य दुसरे मीडिया पोर्टल ने भी पंकज भैया से इस बाबत कई बार जानकारी लेनी चाहि लेकिन २ दिन बीतने के बाद भी उन्होंने इस मीटिंग पर कोई जानकारी नहीं दी ज़रूर पढ़े : क्या चित्रांश वेलफेयर ट्रस्ट के विवादित पक्षों में समझोते की बात कह कर पंकज भैया फंस गये है ?  ऐसे में ट्रस्ट के सदस्यों के विवाद अब कहाँ तक जायेंगे  इसका कहना मुश्किल है क्योंकि ट्रस्ट से जुड़े पक्षकार संजीव सिन्हा पहले ही इसे लेकर कानूनी कार्यवाही के संकेत दे चुके है I ऐसे में इस लड़ाई में आगे क्या होगा ये वक्त ही बतायेगा I हालांकि कायस्थों में संगठनो को लेकर जो धारणाये थी उनको इस ट्रस्ट के विवाद ने और भी सही साबित कर दिया है    

आप की राय

आप की राय

About कायस्थ खबर

कायस्थ खबर(http://kayasthakhabar.com) एक प्रयास है कायस्थ समाज की सभी छोटी से छोटी उपलब्धियो , परेशानिओ को एक मंच देने का ताकि सभी लोग इनसे परिचित हो सके I इसमें आप सभी हमारे साथ जुड़ सकते है , अपनी रचनाये , खबरे , कहानियां , इतिहास से जुडी बातें हमे हमारे मेल ID kayasthakhabar@gmail.com पर भेज सकते है या फिर हमे 7011230466 पर काल कर सकते है अगर आपको लगता है की कायस्थ खबर समाज हित में कार्य कर रहा है तो  इसे चलाने व् कारपोरेट दबाब और राजनीती से मुक्त रखने हेतु अपना छोटा सा सहयोग 9654531723 पर PAYTM करें I आशु भटनागर प्रबंध सम्पादक कायस्थ खबर

One comment

  1. Trust mein koi vivaad nahi hai.he vivaad create kar natakbazi kee jaa rahi hai takki ground level zero aur aur social media ke hero kaysth samaz mein apnee position zero se hero dikkha sake.vivaad kiya jaa raha hai.Trust kaa defind hona sabke hit mein hai.Trust ko chalane deunct karne bhung karne kaa ek matra legal right sanyojak kaa hai aur gaban kaa aarop laganewale defamation case ke liye taiyaar rahe.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*