Check the settings
Templates by BIGtheme NET
Home » चौपाल » ABKM विवाद : यदि ए बी के एम में कायस्थ एकता करने की आज छटपटाहट ” आ गयी हैं तो कौन सा अपराध हो गया हैं – बृजेश कुमार श्रीवास्तव

ABKM विवाद : यदि ए बी के एम में कायस्थ एकता करने की आज छटपटाहट ” आ गयी हैं तो कौन सा अपराध हो गया हैं – बृजेश कुमार श्रीवास्तव

मै बृजेश कुमार श्रीवास्तव , आज भी कायस्थ एकता का ही कार्य कर रहा हूँ , केवल अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया हैं , स्थान यानी यूनिट निर्धारित कर लिया हैं , और वह हैं " फैजाबाद की कायस्थ समाज " आज ए बी क एम की छटपटाहट देख कर हमें गर्व हो रहा हैं "
कमसे कम आज ए बी के एम में यह सोच तो आयी हम सभी को गर्व होना चाहिये की देश की सबसे पुरानी संस्था " आज एक्टिव " हो रही हैं !
आज यह जीत हमारे " कायस्थ वृन्द की ही हैं " मृत प्राय संस्था में जान डालने का कार्य " इसी कायस्थ वृन्द ने ही " डाला हैं !
देश की सारी संस्थायें केवल " कायस्थ एकता " का ही कार्य तो कर रही हैं , " तो यदि ए बी के एम में इसे करने की आज छटपटाहट " आ
गयी हैं तो कौन सा अपराध हो गया हैं ,
आज ए बी के एम किसी का पद , किसी का संगठन , किसी की प्रभुता समाप्त करने के लिये नहीँ बल्कि उसी कायस्थ एकता के लिये ही तो
छटपटा रही है !
हम सभी को आज की बात करनी चाहिये नाकि आदि काल की बातों को लेकर आज आरोप प्रत्यारोप करना चाहिये !
" कायस्थ वृन्द का कार्य ही यही है की वह देश के सभी संगठनो को एक मंच प्रदान करें " आज कायस्थ वृन्द को ए बी के एम के उस आयोजन
जो दिनांक 17 / 4 / 2016 को लखनऊ के रवीँद्रालय प्रेक्षा गृह में होने
जा रहा है , " को सफल बनाने का वीणा उठाना चाहिये " आना और सबको लाना चाहिये !
तभी तो आयेगी सच्ची " कायस्थ एकता " पहले किसने क्या नहीँ किया , क्यों नहीँ किया ! ए सब इतिहास की बाते है हो सकता है कोई मजबूरी रही हो " जैसे बाबू राजेंद्र प्रसाद जी के राष्ट्रपति रहते हुए भी " गंदे जवाहर लाल " ने बाबू सुभाष चन्द्र बोस जी को "
अंग्रेजों के कहने पर " सेना का द्रोही , देश का द्रोही , वालें पेपर पर हस्ताक्षर करवा कर आज तक देश को गुमराह किया !
क्या उस समय बाबू राजेंद्र प्रसाद जी को विरोध नहीँ करना चाहिए था !
तो हर व्यक्ति की , हर पद की , हर संगठन की , कहीँ ना कहीँ कोई ना कोई मजबूरी हो ही जाती है !
इस लीये पिछली बाते लाकर समय नष्ट नहीँ करना है !
समय कम है " हर कायस्थ नेता को आज एक इकाई से कार्य करना चाहिये हम भी " फैजाबाद को " इकाई मान कर " कायस्थ एकता " के लिये ही
कार्य कर रहें हैं !
और एक लक्ष्य निर्धारित किया हैं :-- वह लक्ष्य हैं ; ---
कमलेश श्रीवास्तव को :-- बी जे पी से विधान सभा पहुँचाना !
इसमे यदि बी जे पी साथ नहीँ देती तो :------------
अयोध्या विधान सभा से " बी जे पी को हराना :------
क्योंकि हम एक रहेंगे तो जीत हार का आंकड़ा बिना हमारे
तय ही नहीँ ही सकता !
हम 40, 000 मतदाता अब चुप नहीँ बैठेंगे !
बस :---------:-------:-----:-------;
एक निवेदन आप से :-------- आप सभी शामिल हो !
दिनांक :--- 17 अप्रैल 2016 लखनऊ में :-----
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा " के इस कार्यक्रम में "
बृजेश कुमार श्रीवास्तव (जिला अध्यक्ष )
ए बी के एम : फैजाबाद
" कायस्थ - एकता ! जिन्दाबाद ! जिन्दाबाद ! जिन्दाबाद !

इस ABKM विवाद के संदर्भ में हमें कुछ जबाब मिले उन्हें आप नीचे दिए लिंक पर पढ़ सकते है

ABKM विवाद : "A.B.K.M. में छटपटाहट क्यों" - संजीव सिन्हा 

ABKM विवाद : यह सच है कि ABKM नेतृत्व विहीन है -MBB सिन्हा 

ABKM विवाद : संजीव जी अखिल भारतीय कायस्थ महा सभा " से इतनी नफरत क्यों -बृजेश कुमार श्रीवास्तव 

ABKM विवाद : यदि ए बी के एम में कायस्थ एकता करने की आज छटपटाहट " आ गयी हैं तो कौन सा अपराध हो गया हैं - बृजेश कुमार श्रीवास्तव 

ABKM विवाद : 'मत' भेद कभी भी 'मन' भेद नहीं बनने चाहिए - ललित सक्सेना 

आप की राय

comments

About कायस्थ खबर

कायस्थ खबर(http://kayasthakhabar.com) एक प्रयास है कायस्थ समाज की सभी छोटी से छोटी उपलब्धियो , परेशानिओ को एक मंच देने का ताकि सभी लोग इनसे परिचित हो सके I इसमें आप सभी हमारे साथ जुड़ सकते है , अपनी रचनाये , खबरे , कहानियां , इतिहास से जुडी बातें हमे हमारे मेल ID kayasthakhabar@gmail.com पर भेज सकते है या फिर हमे 7011230466 पर काल कर सकते है आशु भटनागर प्रबंध सम्पादक कायस्थ खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*