Home » खबर » बिहार के कायस्थों का दिल्ली में बजा डंका : विश्व कायस्थ सम्मेलन के बहाने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सामने दिखाई अपनी ताकत, राजीव रंजन और आम आदमी पार्टी की संभावनाओं पर चली चर्चा

बिहार के कायस्थों का दिल्ली में बजा डंका : विश्व कायस्थ सम्मेलन के बहाने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सामने दिखाई अपनी ताकत, राजीव रंजन और आम आदमी पार्टी की संभावनाओं पर चली चर्चा

अतुल श्रीवास्तव । दिल्ली में रविवार को बिहार के कायस्थों ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की उपस्थिति में दिल्ली में अपना डंका बजा दिया । तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित इस कायस्थ सम्मेलन में बिहार के सभी प्रमुख चेहरे मंच पर विराजमान थे जिनमे भाजपा के सांसद और पूर्व आईटी और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, पूर्व सांसद संजय निरुपम, फिल्म स्टार शत्रुघ्न सिन्हा, शेखर सुमन, अध्यन सुमन, अंजन श्रीवास्तव, रिटायर आईपीएस उदय सहाय, और आयोजक राजीव रंजन प्रमुखता से मौजूद रहे ।

कार्यक्रम में दिल्ली एनसीआर में रहने वाले बिहार झारखंड के कायस्थों ने ठंड के बाबजूद उपस्थिति दर्ज कराई । कार्यक्रम के पहले हिस्से में राजनेताओं ने अपनी बातें समाज के समक्ष रखी तो दूसरे हिस्से में रंगारंग कार्यक्रम में अंजन श्रीवास्तव, शेखर सुमन और उनके पुत्र अध्ययन सुमन ने लोगों का भरपूर मनोरंजन किया । लोगों ने इसे पटना, बिहार की राजनीति में पुराने कायस्थों की राजनीति का अंत और रविशंकर प्रसाद / राजीव रंजन के एक नए युग की शुरुआत बताया

राजीव रंजन के आम आदमी पार्टी में जाने की चर्चाओं को मिला बल

कायस्थ समाज के कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी राज्यसभा सांसद संजय सिंह के मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाए जाने के बाद राजनीतिक हलकों में यह चर्चाएं होने लगी कि शायद राजीव रंजन इस कार्यक्रम के जरिए आम आदमी पार्टी को अपनी ताकत दिखाना चाहते हैं और जल्द ही वह आम आदमी पार्टी जॉइन भी कर ले । लोगो के अनुसार आम आदमी पार्टी को भी बिहार में एक सशक्त नेता की जरूरत है और राजीव रंजन को भी राष्ट्रीय स्तर पर एक सशक्त पार्टी की ऐसे में दोनों के हित एक दूसरे के लिए मिल सकते है

मुख्य अतिथि अरविंद केजरीवाल ने कायस्थों के योगदान को सराहा

कार्यक्रम में आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मुख्य अतिथि थे । केजरीवाल ने भगवान चित्रगुप्त को पुष्पांजलि देने के बाद अपने भाषण में कहा कि यह कायस्थ समाज का कार्यक्रम है और उसमें एक बनिए को मुख्य अतिथि बनाया गया है और वह इसके लिए समाज के शुक्रगुजार हैं उन्होंने आज के कार्यक्रम के लिए बताया कि उनको आज पंजाब में अपने इलेक्शन के कार्यक्रम में भी जाना था लेकिन राजीव रंजन के अनुरोध पर वह इस कार्यक्रम में बहुत थोड़े ही समय के लिए आए हैं और प्रोटोकॉल के हिसाब से उन्हें सबसे आखिर में बोलना चाहिए था लेकिन समय अभाव के कारण वह सबसे पहले बोलकर जा रहे हैं अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के स्कूलों और स्वास्थ्य के अपने चुनावी प्रचार को बताते हुए कहा कि आज दिल्ली के सरकारी स्कूलों में प्राइवेट स्कूलों के बच्चे एडमिशन ले रहे हैं दिल्ली में प्राइवेट स्कूल माफिया को नियंत्रण में किया गया है

संजय सिंह के भगवान चित्रगुप्त को पुष्पांजलि ना करने पर विवाद

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह भी उपस्थित थे अरविंद केजरीवाल के द्वारा भगवान चित्रगुप्त की पुष्पांजलि के बाद आयोजक राजीव रंजन ने संजय सिंह को पुष्प लेकर इशारा किया कि वह भी पुष्पांजलि करें लेकिन उन्होंने इशारों इशारों में उसको इग्नोर करके आगे बढ़ने का काम किया जिसके बाद कायस्थ समाज की इस पर तीखी प्रतिक्रिया हुई दिल्ली के भाजपा नेता सुदेश वर्मा ने इस पर कहा कि अगर संजय सिंह को यह नहीं करना था तो उन्हें ऐसे प्रोग्राम में जाना ही नहीं चाहिए था । इलाहाबाद के धीरेंद्र श्रीवास्तव ने इस पर कहा कि हम इस कृत्य की कड़ी निंदा करते है । बाद में अपने भाषण में संजय सिंह ने कायस्थों के द्वारा समाज के हर विधा में योगदान को बताते हुए समाज के लोगो से उसी पार्टी को वोट देने को कहा जो उन्हे सबसे ज्यादा प्रतिनिधित्व दे । वह बात अलग है कि अरविंद केजरीवाल और संजय सिंह दिल्ली में अपने ही एक पदाधिकारी और गौतम बुध नगर के प्रवक्ता संजीव निगम को इस कार्यक्रम में साथ नहीं ले गए।

रविशंकर प्रसाद ने बताया कि पहले बिहार और पटना से होने के बाद हमारा परिचय है कि हम सब चित्रांश हैं

कार्यक्रम में पहुंचे भाजपा सांसद और पूर्व आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने कायस्थों की इतनी भीड़ को देखकर खुशी जाहिर की उन्होंने कहा कि आज मंच पर शेखर सुमन है वह बिहार से हैं उनके पिता डॉ रहे हैं,शत्रुघ्न सिन्हा आने वाले हैं, राजीव रंजन, अंजन श्रीवास्तव, उदय सहाय, संजय निरुपम और हम ( रवि शंकर प्रसाद ) सभी बिहार से हैं, पटना से हैं और इनके अलावा हम सबका एक और परिचय है कि हम सब चित्रांश हैं । रविशंकर प्रसाद ने कायस्थों के साथ काम करने की बात बताते हुए अंजन श्रीवास्तव की ओर इशारा करते हुए कहा कि जब वह मिनिस्टर थे तो उन्होंने वागले की दुनिया फेम अंजन श्रीवास्तव को सेंसर बोर्ड का दायित्व दिया और कहा कि विश्व न्यायाधीश भगवान चित्रगुप्त की तरह इस पर भी सही से काम करना। उन्होंने इस मौके पर कायस्थों से दहेज रूपी कुरीति के खिलाफ मुहिम चलाने की अपील करते हुए कहा इसके कारण तमाम परिवार बर्बाद होते हैं ।

लोगो के मंच पर आकर सेलेब्रिटी के साथ फोटो खिंचाने से आक्रोशित हुए अंजन श्रीवास्तव

कार्यक्रम में शेखर सुमन शत्रुघ्न सिन्हा अंजन श्रीवास्तव जैसे तमाम बॉलीवुड सेलिब्रिटी के आने के बाद कार्यक्रम में एंकर समेत तमाम लोगों में उनके साथ फोटो खिंचवाने की होड़ लग गई लोग कार्यक्रम में वक्ताओं को सुनने की जगह मंच पर ही फोटो खिंचवाने लगे जिससे "बागले की दुनिया" फेम अंजन श्रीवास्तव बेहद व्यथित हुए और उन्होंने अपना आक्रोश जाहिर करते हुए कहा कि आप लोग फोटो खिंचवाने की जगह हमको थोड़ा सा सुनिए भी । आप खुद इस काबिल बनिए की हम आपके साथ फोटो खिंचवाए ।

शेखर सुमन और उनके पुत्र अध्यन सुमन ने कार्यक्रम में बांधा समा

शेखर सुमन और उनके पुत्र अध्यन सुमन ने कार्यक्रम में अपने गाए गानों से समा बांध दिया शेखर सुमन ने "ख्वाब हो या तुम हो कोई हकीकत","ये कहां आ गए हम", "इंतहा हो गई इंतजार की" जैसे गानो से सबको झूमने पर मजबूर कर दिया । भोजपुरी गायिका प्रिया मालिक ने अपने अंदाज से लोगो को झूमने पर मजबूर कर दिया जिसके आयोजको को सामने लोगो कार्यक्रम सिर्फ देखने को कहा ।

आप की राय

आप की राय

About कायस्थखबर संवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*