Home » चौपाल » कायस्थ बोलता है » कायस्थ समाज को भाजपा ने उचित प्रतिनिधित्व की दिशा में संतुलित कदम बढ़ा दिया है – मनीष श्रीवास्तव

कायस्थ समाज को भाजपा ने उचित प्रतिनिधित्व की दिशा में संतुलित कदम बढ़ा दिया है – मनीष श्रीवास्तव

कायस्थ समाज को भाजपा ने उचित प्रतिनिधित्व की दिशा में संतुलित कदम बढ़ा दिया है। अब कायस्थ समाज को भाजपा ने उत्तर प्रदेश, बिहार,झारखंड, मध्यप्रदेश ,राजस्थान, पश्चिमी बंगाल, उड़ीसा, त्रिपुरा, महाराष्ट्र,दिल्ली समेत कई प्रदशो से अनेक प्रतिनिधित्व दिए है और दे रहे है।अब उन सभी प्रतिनिधित्व पा रहे कायस्थ नेताओ की जिम्मवारी है कि वो सभी स्वामी विवेकानंद विचारधारा के साथ चलकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के साथ खड़े रहे और अपनी जिम्मेदारी को ईमानदारी के साथ पूरा करे। ग्यारह करोड़ कायस्थ समाज के एकमात्र राष्ट्रीय स्वरूप वाला पंजीकृत सन्गठन अखिल भारतीय कायस्थ महासभा (पंजी)2150,नई दिल्ली के राष्ट्रीय संयोजक - मनीष श्रीवास्तव ने कहा--"कायस्थ कभी जातीवादी विचारधारा में नही रहा वो हमेशा मेरिट आधारित कार्यो पर फोकस किया और मेरिट के आधार पर जो मिला उसे पाया। यह समग्र हिंदुत्व का प्रतिनिधित्व करता आया है। तर्क यह है कि वर्ण ब्यवस्था में कायस्थ समाज क्षत्रिय,ब्राह्मण,वैश्य एवं शुद्र में रहा नही ,मतलब की समग्र हिंदुत्व की प्रति कायस्थ हमेशा ही खड़ा रहा,इसका मतलब यह है कि कायस्थ एवं हिंदुत्व एक दूसरे का पूरक रहा है। हमारा सन्गठन अखिल भारतीय कायस्थ महासभा (पंजी)2150, नई दिल्ली इसके लिए भाजपा शिर्ष नेतृत्व को धन्यवाद ज्ञापित करती है। हम सभी समाजिक संगठनों की ज़िमेदारी है कि सामाजिक कार्यो को और मजबूती से करे। झारखंड में भाजपा ने कायस्थ समाज को प्रदेस अध्यक्ष के रूप में दीपक प्रकास जी को बनाया और एक बार पुनः दीपक प्रकास जी को राज्यसभा से मनोनयन हेतु चुनाव किया है यह कायस्थ समाज के लिए गर्व की बात है। भाजपा में जहां राजस्थान से श्री ॐ माथुर जी राज्यसभा सांसद एवं भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी है, बिहार से श्री रविशंकर प्रसाद जी लोकसभा सदस्य एवं केंद्रीय मंत्रिमंडल में टॉप 5 कर नेता है, बिहार से ही श्री संजय मयूख जी भाजपा के केंद्रीय मीडिया शह संयोजक और एमएलसी है, बिहार भाजपा युवा अध्यक्ष एवं बिधायक श्री नितिन नवीन जी है, वर्तमान राज्यसभा सांसद श्री आरके सिन्हा जी भाजपा के वरिष्ठ सदस्य है इनके पुत्र युवा नेता श्री ऋतुराज सिन्हा जी भाजपा बिहार के प्रदेश मंत्री एवं शसक्त नेता है।बिहार से अन्य नेता भी है। उत्तर प्रदेश में भी कई कायस्थ नेताओ को भाजपा ने जगह दी , कई विधायक भी बनाये है सन्गठन में भी जगह दिया है। मध्यप्रदेश में भी कई कायस्थ नेताओ को जगह दिया गया। त्रिपुरा में कायस्थ समाज से मुख्यमंत्री दिया गया। पश्चिमी बंगाल में पिछले बार कायस्थ समाज से ही मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित किया गया। उड़ीसा में भी उचित भागीदारी दी गयी। कई उदाहरण है। इसके अलावा प्रसाशनिक ब्यवस्था में अनेक कायस्थ समाज के लोगो को एडजस्ट किया गया है । राज्यसभा सांसद श्री आरके सिन्हा जी का राज्यसभा कार्यकाल अगले महीने पूरा हो रहा है , हमारे सन्गठन की मांग है कि भाजपा शीर्ष नेतृत्व श्री आरके सिन्हा जी को उचित प्रतिनिधित्व प्रदान करे ,श्री आरके सिन्हा जी को राज्यपाल या भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी में जगह देती है तो कायस्थ समाज भी गौरवान्वित होगा।" इसके बावजूद कोंग्रेसी,सपाई,आरजेडी सरीखी विचारधारा वाली दूसरी सन्गठन जो क्षेत्रीय सन्गठन के रूप में जानी जाती है अखिल भारतीय कायस्थ महासभा ,5680,मैनपुरी के दोनों गुट एकदूसरे को नीचा दिखाते हुए समाज को दिग्भर्मित कर रहे है।इस सन्गठन के अधिकतर सदस्य सिर्फ राजनैतिक चेतना की वात करते मिलेंगे लेकिन कोई भी कार्य नही करेगे। समाज यह बात जनता है। कोई भी सन्गठन यह कन्फ्यूजन में ना रहे कि कायस्थ समाज आपकी राजनीतिक बातों को मानेगा। राजनीतिक दलों से जुड़े हुए लोग अपने आप मे खुद सक्षम है उनको राजनीतिक जगह देने के लिए कायस्थ संगठनों की जरूरत नही है। हम कायस्थ सगठन सिर्फ उत्प्रेरक के रुप में कार्य कर सकते है। राजनीतिक सन्गठन के रूप में कदापि नही। इतना याद रखे कायस्थ सगठनों की ज़िमेदारी सामाजिक कार्यो को करने की है । हमारा सन्गठन अखिल भारतीय कायस्थ महासभा (पंजी)2150,नई दिल्ली अपने राष्ट्रीय संयोजक मनीष श्रीवास्तव के नेतृत्व में गैर राजनितिक सन्गठन के रूप में आगे बढ़ रही है और भाजपा नीत सरकार और भाजपा शीर्ष नेतृत्व द्वारा कायस्थ समाज को दी जा रही उचित भागीदारी से सन्तुष्ट है यह जरूर है कि भाजपा को थोड़ा उचित भागीदारी और देनी चाहिए। हम लोग पूर्ण रूप से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी मे पूर्ण आस्था ब्यक्त करते है। और भाजपा शिर्ष नेतृत्व पर आस्था ब्यक्त करते है। आपका मनीष श्रीवास्तव राष्ट्रीय संयोजक अखिल भारतीय कायस्थ महासभा (पंजी)2150,नई दिल्ली लेख में।दिए विचार लेखक के है उनसे कायस्थ खबर का सहमत होना आवश्यक नहीं है

आप की राय

आप की राय

About कायस्थखबर संवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*